रविवार, दिस 15

  •  
  •  

अजित कुमार

ajit-kumar

अजित कुमार हिंदी के वरिष्ठ कवियों में से एक हैं। इनका जन्म 1933 ई. में हुआ था। मौलिक लेखन और अध्‍यापन के साथ-साथ अनुवाद और संपादन आदि कार्यों से भी अजित कुमार सजग दायित्वबोध के साथ गहराई से जुड़े हुए हैं। उनका मौलिक लेखन विविध विधाओं को अपने परिसर में शामिल करता है।

पुस्तकें

अनेक कविता संग्रहों के अलावा अजित कुमार की अब तक कहानी, उपन्यास, यात्रा, संस्मरण, आलोचना आदि विधाओं में लगभग दो दर्जन पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में दीर्घ अवधि से नियमित लेखन के अलावा रेडियो, टेलीविजन और साहित्यिक कार्यक्रमों में उनकी प्रचुर भागीदारी ने एक सक्रिय और सजग लेखक के रूप में उन्हें स्थापित कर दिया है। अजित कुमार की कुछ प्रमुख कृतियाँ निम्नलिखित हैं-

  • अकेले कंठ की पुकार
  • कविता का जीवित संसार
  • इधर की हिंदी कविता
  • ऊसर
  • घरौंदा
  • अ से ऊ तक

Hindi-sevi-samman-15

पुरस्कार

अजित कुमार की अनेक रचनाओं का देशी-विदेशी भाषाओं में अनुवाद हो चुका है तथा अनेक प्रतिष्ठाओं ने उनके कृतित्व के लिए उन्हें सम्मानित भी किया है। श्री अजित कुमार को 'केंद्रीय हिंदी संस्थान' ने अपार हर्ष के साथ 'सुब्रह्मण्यम भारती पुरस्कार' से पुरस्कृत किया है।