शुक्रवार, नव 22

  •  
  •  
आप यहाँ हैं:घर शैक्षिक विभाग पूर्वोत्तर सामग्री निर्माण

पूर्वोत्तर सामग्री निर्माण विभाग

परिचय एवं उद्देश्य -
पूर्वोत्तर सामग्री निर्माण विभाग पूर्वोत्तर राज्यों के लिए स्थापित एक विभाग है। जिसका मुख्य उद्देश्य भारत के पूर्व में स्थापित अहिंदी राज्यों के लिए हिंदी पाठ्य पुस्तकें, अध्येता कोश, लोक साहित्य एवं अन्य सामग्री तैयार की जाती है। जिनको समय-समय पर पूर्वोत्तर राज्यों की माँग अनुसार संबंधित राज्य के विषय विशेषज्ञ एवं केंद्रीय संस्थान आगरा के विशेषज्ञों के सहयोग से तैयार की जाती है ताकि पूर्वोत्तर राज्यों में हिंदी का प्रचार एंव प्रसार अधिक से अधिक हो सकें।


कार्यकलाप -
पूर्वोत्तर राज्यों हेतु शिक्षण सामग्री जैसे: अध्येता कोश, लोक साहित्य, पाठ्य पुस्तकें, अध्यापक मार्गदर्शिकाएं, अभ्यास मालाएं हिंदी पाठ्य पुस्तकें एवं अन्य साम्रगी का निर्माण कार्य किया जाता है।


 

विभागीय सदस्य -
विभागाध्यक्ष

डॉ. सतवीर सिंह


प्रशासनिक सदस्य

मनीष कुमार शाक्य



विभागीय गतिविधियाँ -
शिक्षण सामग्री निर्माण हेतु पिछले 05 वर्षों में आयोजित कार्यशालाएँ -

 

2015-16 - 15 कार्यशालाएँ
2016-17 - 52 कार्यशालाएँ
2017-18 - 67 कार्यशालाएँ
2018-19 - 56 कार्यशालाएँ
2019-20 - 28 कार्यशालाएँ (माह जुलाई, 2019 तक)

विभाग द्वारा निर्मित शैक्षणिक सामग्री (अध्येता कोश, लोक साहित्य ग्रंथ, पाठ्य पुस्तकें आदि) -
अध्येता कोश :
निर्मित/प्रकाशित :
1. हिंदी-कॉकबरक(त्रिपुरा)
2. हिंदी-मिज़ो (मिजोरम)
3. हिंदी-निशी (अरुणाचल प्रदेश)
4. हिंदी-खासी(मेघालय)
5. हिंदी-गारो(मेघालय)
6. हिंदी-मणिपुरी(मणिपुर)
7. हिंदी-नेपाली(सिक्किम)
8. हिंदी-ओड़िआ(ओड़िशा)
9. हिंदी-असमिया(असम)
10. हिंदी-बल्ती(जम्मू-कश्मीर)
11. हिंदी-भूटिया(सिक्किम)
12. हिंदी-लेप्चा(सिक्किम)
13. हिंदी-लिम्बू(सिक्किम)
14. हिंदी-जेलियांग(नागालैंड)
15. हिंदी-डोगरी(जम्मू-कश्मीर)
16. हिंदी-भीली(मध्य प्रदेश)
17. हिंदी-राई(सिक्किम)
18. हिंदी-सौराष्ट्री(गुजरात)
19. हिंदी-सुरती(गुजरात)
20. हिंदी-पट्टणी(गुजरात)
21. हिंदी-चरोतरी(गुजरात)
22. हिंदी-नोक्ते(अरुणाचल प्रदेश)
23. हिंदी-आदी(अरुणाचल प्रदेश)

प्रकाशनाधीन:
1. हिंदी-मोनपा(अरुणाचल प्रदेश)
3. हिंदी-सिंग्फो(अरुणाचल प्रदेश)
4. हिंदी-तेलुगु(हैदराबाद)
5. हिंदी-सिंधी
6. हिंदी-कन्नड़(कर्नाटक)
7. हिंदी-कोंकणी(गोवा)
8. हिंदी-मलयालम(केरल)
9. हिंदी-सेमा(नागालैंड)

निर्माणाधीन अध्येता कोश

1. हिंदी-गालो(अरुणाचल प्रदेश)
2. हिंदी-जयंतिया(मेघालय)
3. हिंदी-राभा(असम)
4. हिंदी-जमातिया(त्रिपुरा)
5. हिंदी-मिशमी(अरुणाचल प्रदेश)
6. हिंदी-तागिन(अरुणाचल प्रदेश)
7. हिंदी-बोरो/बोड़ो(असम)
8. हिंदी-शीना(जम्मू-कश्मीर)
9. हिंदी-गढ़वाली(उत्तराखंड)
10. हिंदी-तमिल(तमिलनाडु)
11. हिंदी-कुमाऊँनी(उत्तराखण्ड)
12. हिंदी-मलयालम(केरल)
13. हिंदी-बांग्ला (पश्चिम बंगाल)
14. हिंदी-मराठी (महाराष्ट्र)
15. हिंदी-पंजाबी (पंजाब)
16. हिंदी-गुजराती(गुजरात)
17. हिंदी-संथाली(झारखण्ड)

पाठय पुस्तकें:
सिक्किम राज्य की कक्षा 1 से 8 तक की हिंदी पाठ्य पुस्तकों का निर्माण।
अध्यापक मार्गदर्शिकाएँ: सिक्किम की कक्षा 1, 2 एवं 3 तक अध्यापक मार्गदर्शिकाओं का निर्माण।
अभ्यास मालाएँ: सिक्किम की कक्षा 1, 2 एवं 3 तक अभ्यास-माला पुस्तकों का निर्माण।


लोक साहित्य:
पूर्वाेत्तर राज्य हेतु 57 लोक साहित्यों का निर्माण किया जाना है।
प्रकाशित लोक साहित्य:
1. मणिपुरी (मणिपुर)
2. मिज़ो (मिजोरम)
3. बोरो (असम)
4. कॉकबराक (त्रिपुरा)


निर्माणाधीन लोक साहित्य
1. आदी (अरुणाचल प्रदेश)
2. निशी (अरुणाचल प्रदेश)
3. नोक्ते (अरुणाचल प्रदेश)
4. मोनपा (अरुणाचल प्रदेश)
5. गुजराती (गुजरात)