रविवार, सित 22

  •  
  •  
आप यहाँ हैं:घर क्षेत्रीय केंद्र हैदराबाद केंद्र प्रसार कार्यक्रम

प्रसार कार्यक्रम हैदराबाद केंद्र

(1) राष्ट्रीय संगोष्ठियों का आयोजन -

केंद्र पर अब तक 9 राष्ट्रीय संगोष्ठियों का आयोजन किया गया। 22-24 फरवरी, 79 में व्याकरण संगोष्ठी, 8-10 सितंबर, 1979 को बहुभाषायी विकासमान बहुभाषा समाज में भाषा की भूमिका, 12 जून, 1980 को 'भारतीय साहित्य में आधुनिक प्रतृत्तियाँ, 20-21 जून, 1980 को 'भाषा अध्ययन के आयाम 'सैद्घांतिक तथा अनुप्रयोगात्मक पक्ष', 7-10 नवंबर, 1992 को तेलुगु-हिंदी-उर्दू / दक्खिनी में आपसी अनुवाद, 30 जनवरी तथा 1 फरवरी, 2002 को सूचना क्रांति एवं हिंदी, 30-31 दिसंबर, 2002 को 1857 - नव जागरण और भारतीय भाषाएँ’ विषयों पर संगोष्ठियों का आयोजन हुआ। उस्मानिया विश्वविद्यालय के सहयोग दक्षिण एशियाई भाषाओं के छठे अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन पर (2004-2005), महाराष्ट्र राज्य हिंदी साहित्य अकादमी मुंबई तथा संत कबीर प्रतिष्ठान लातूर के सहयोग से '21वीं सदी में हिदी-मराठी संत साहित्य की प्रासंगिता' पर (2009-2010), हैदराबाद विश्वद्यिालय हैदराबाद के सहयोग से 'हिंदी आलोचना और मैनेजर पाण्डेय' पर लघु संगोष्ठियों का आयोजन केंद्र द्वारा किया गया।

(2) विचार गोष्ठी -

दिनांक 30.09.1999 को नगरद्वय राजभाषा अधिकरी के लिए 'राजभाषा हिंदी' पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।

(3) प्रसार व्याख्यानमाला का आयोजन -

समय-समय पर प्रसार व्याख्यानमालाओं का आयोजन किया गया जिनमें प्रो. दिलीप सिंह प्रो. मुरारी लाल उप्रेती, प्रो. शशिभूषण पाण्डेय 'शीतांशु' जैसे विद्वानों ने अपनी सेवाएँ दी।