शनिवार, नव 16

  •  
  •  

विशेष गहन पाठ्यक्रम

विशेष, गहन हिंदी शिक्षण-प्रशिक्षण पाठ्यक्रम

भारत के उत्तर-पूर्वी राज्यों-विशेषकर मिज़ोरम, मेघालय, नागालैंड, अरूणाचल प्रदेश, मणिपुर, सिक्किम के अप्रशिक्षित हिंदी अध्यापकों को प्रशिक्षित करने के लिए संस्थान द्वारा विशेष गहन हिंदी शिक्षण-प्रशिक्षण पाठ्यक्रम संचालित किया जाता है। इस पाठ्यक्रम द्वारा प्रशिक्षणर्थियों को हिंदी भाषा और साहित्य का आधारभूत ज्ञान कराने के साथ-साथ शिक्षण की आधुनिक विधियों में भी प्रशिक्षित किया जाता है। यह पाठ्यक्रम मुख्यालय और दीमापुर में संचालित किया जाता है। यह पाठ्यक्रम पूर्वोत्तर प्रांतो के लिए है। इस पाठ्यक्रम की अवधि एक वर्ष की है। प्रवेश हेतु प्रवेश परीक्षा देनी होगी।

प्रवेश योग्यताएँ

हिंदी विषयों सहित मैट्रिक परीक्षा की उत्तीर्णता अथवा मैट्रिक परीक्षा की उत्तीर्णता के साथ मान्यता प्राप्त समकक्ष हिंदी डिप्लोमा की उत्तीर्णता।

पाठ्यक्रमों की रूपरेखा

इसका संपूर्ण पाठ्यक्रम त्रिवर्षीय हिंदी डिप्लोमा (नागालैंड) के स्तर का है। इसका पाठ्यक्रम प्रवेश के बाद उपलब्ध होगा।